रोजगार नहीं मिला तो साँपों से जोड़ लिया नाता!

SHARE:

समाजशास्त्र और राजनीति शास्त्र विषय में परास्नातक, बीएड व संगीत में प्रभाकर की डिग्री हासिल करने के बाद रोजगार नहीं मिलने पर मुरारीलाल ने ...

समाजशास्त्र और राजनीति शास्त्र विषय में परास्नातक, बीएड व संगीत में प्रभाकर की डिग्री हासिल करने के बाद रोजगार नहीं मिलने पर मुरारीलाल ने विषधरों से नाता जोड़ लिया। अब विषधरों के साथ खेलना उसका शगल बन गया है। किंग कोबरा, करैत, अजगर, विषखोपड़ा जैसे विषधरों के साथ मानों उसने अलग दुुनिया बसा ली हो।

मुरारी और कोबरा -आमने सामने

विषधरों के साथ खेलना बना शगल
जौनपुर के बक्शा ब्लाक के बेलापार गांव निवासी मुरारारीलाल यादव को लोग मुरली वाले के नाम से जानते हैं। किसी के घर अगर कोई विषधर दिखा और मुरलीवाले को आधी रात को भी इसकी जानकारी हुई तो वह बिना किसी परवाह के निकल पड़ता है। जिस विषधर को देख लोगों की सांसें अटक जाती हैं उसे बहुत ही आराम से पकड़ कर वह अपने बटुए में रख लेता है। ऐसा भी नहीं कि आजीविका के लिए उसने यह काम शुरू किया है। विषधरों को पकड़ने के एवज में उसे कुछ चाहिए भी नहीं।

विषधरों को पालने के लिए मुरारारीलाल ने घर पर दर्जनों की संख्या में लकड़ी के डिब्बे बनवा रखे हैं। अब मुरारी के घर में जिस दिन कोई नया विषधर सदस्य आता है तो संसाधनों की कमी के कारण पहले से मौजूद किसी पुराने विषधर सदस्य को वह जंगल में ले जाकर उसे आजाद कर देते हैं। वह विषधरों को खुली हवा में टहलाने उनके साथ घंटों खेलने के अलावा उनके चारे का भी मुकम्मल इंतजाम करते हैं। एक साथ 10 से भी अधिक किंग कोबरा और करैत जैसे खतरनाक विषधरों के साथ मुरारी को खेलते देख किसी को भी हैरत हो सकती है। मुरारी को प्रकृति से भी गहरा लगाव है। उन्होंने घर के आगे पीछे तमाम प्रकार के पौधे लगा रखे हैं। कहते हैं कि पर्यावरण संतुलन के लिए इन विषधरों का बड़ा रोल है। जानकारी न होने के कारण लोग इन्हें मार देते हैं यह ठीक नहीं है।
फन के माहिर मुरारी

ऐसे आया मन में ख्याल
28 वर्षीय मुरारीलाल की मानें तो उनकी अवस्था जब आठ वर्ष की थी तभी से विषधरों से उन्हें लगाव हो गया था। घर पर आए एक सपेरे को सांप पकड़ते देख उसे यह समझ में आ गया कि विषधर को पकड़ने के लिए कैसी सावधानी बरतनी चाहिए। उसके अगले दिन ही वह स्कूल से लौट रहा था तो रास्ते में सांप दिखा जिसे उन्होंने पकड़ लिया। इसकी जानकारी घर वालों को हुई तो उसे डांट भी पड़ी। फिर भी हौसला कम नहीं हुआ। घर वालों के चोरी छिपे वह सांप को पकड़ता और छोड़ता रहा। इसी बीच मुरारी की मुलाकात विषधरों के जानकार मत्स्य विभाग के अधिकारी डा. अरविंद मिश्र से हुई तो उसके अंदर का रहा सहा डर भी निकल गया।

वन विभाग को भी उपलब्ध कराते हैं अजगर
कई बार ऐसा हुआ है कि जब मुरारी के घर रखे अजगर को वन विभाग के अधिकारी ले जाकर जंगलों में छोड़ते हैं, लेकिन मुरारी लाल इस बात का अफसोस नहीं। वह कहते हैं कि जीव जंतुओं की हिफाजत करना हमारा धर्म है। यह कार्य जो भी करेगा उनके लिए वही अनुकरणीय होगा। वन विभाग अगर उन्हें प्रोत्साहन दे तो जीव जंतुओं की सुरक्षा के लिए और भी बेहतर कार्य कर सकते हैं।

वैसे यह जोखिम का काम है और मुरारी को सर्प संसार की सलाह है कि वे इस खतरनाक काम को छोड़ दें और वन्य जीव अधिनियम के अधीन पहले शिड्यूल के कोबरा आदि साँपों को बंधक न बनाये क्योकि यह गैर कानूनी है।
रिपोर्ट: आनंद देव, पत्रकार/संवाददाता अमर उजाला, जौनपुर
keywords: snake charmer in hindi, snake charmer india, snake charmers means in hindi, snake charmer up, saap in hindi, snake news in hindi

COMMENTS

BLOGGER: 7
Loading...
Name

-जा़किर अली 'रजनीश',4,-डा0 अरविंद मिश्र,1,Award,1,Award & Reward,2,banded krait,1,Cobra,2,Ichchhadhari sanp,1,Indian snakes,6,Kobra,1,Lygosoma,1,Media coverage,5,Non venomous snakes,4,Other species,2,Poisonous snake bite,2,Poisonous snakes,3,Python,1,queries,10,Russell Viper,1,sand boa snake,2,Sarpdans se bachav,1,Snake bite facts,4,Snake bite safety,5,Snake Bite Treatment,4,Snake Charmer,1,Snake facts,7,Snake myths,12,Snake news,9,Snakebite research,1,Snakes in literature,1,Snakes videos,8,Venomous snakes,6,Viper snake,1,When snake bites,7,अविनाश वाचस्‍पति,1,आज की जनधारा,2,
ltr
item
सर्प संसार (World of Snakes): रोजगार नहीं मिला तो साँपों से जोड़ लिया नाता!
रोजगार नहीं मिला तो साँपों से जोड़ लिया नाता!
http://3.bp.blogspot.com/-F7f4Jbwu4Gg/U9MuEYOtNhI/AAAAAAAAC8w/odNs-WrRpSg/s1600/10569028_697543740282845_9136325124948321634_n.jpg
http://3.bp.blogspot.com/-F7f4Jbwu4Gg/U9MuEYOtNhI/AAAAAAAAC8w/odNs-WrRpSg/s72-c/10569028_697543740282845_9136325124948321634_n.jpg
सर्प संसार (World of Snakes)
http://snakes.scientificworld.in/2014/07/blog-post.html
http://snakes.scientificworld.in/
http://snakes.scientificworld.in/
http://snakes.scientificworld.in/2014/07/blog-post.html
true
8234463497191658512
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy